सीबीएसईः अब किताब खोलकर दे सकेंगे परीक्षा, इसे लागू करने पर चल रहा है मंथन - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

सोमवार, 27 जुलाई 2020

सीबीएसईः अब किताब खोलकर दे सकेंगे परीक्षा, इसे लागू करने पर चल रहा है मंथन

New Delhi: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से प्रत्येक वर्ष होने वाले टर्म एग्जाम या असेसमेंट में ओपेन बुक सिस्टम लागू करने पर मंथन कर रहा है. भले यह सुनने में आपको अजीब लग रहा होगा लेकिन यह सत्य है. इस सिस्टम में परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों को किताब खोल कर लिखने की छूट दी जाएगी.

फिलहाल इसे पांचवी से ऊपर की कक्षाओं में लागू किया जा सकता है. अभी तक टर्म एग्जाम लिखित परीक्षा के आधार पर होता था. मगर अब बोर्ड की ओर से इस पद्धति में बदलाव करने की तैयारी है.
इस सिस्टम के तहत बने प्रश्न सारे रिसर्च पर आधारित होंगे. अच्छी तरह से पढ़ाई करने वाले विद्यार्थी ही इन सवालों का आसानी से जवाब दे पाएंगे. हर सवाल का जवाब देने के लिए उनके पास समय सीमा निर्धारित होगी. बोर्ड की ओर से नई पहल की जानकारी स्कूलों की दी जा रही है. फिलहाल इसका आदेश गोरखपुर नहीं आया है.
बोर्ड का मानना है कि बच्चे ऑनलाइन ही परीक्षा देंगे. ऐसे में उनके ऊपर नजर रख पाना संभव नहीं है. लेकिन उन्हें ऑनलाइन पढ़ाई समझ में आ रही है. ये बताने में ओपेन बुक सिस्टम बेहद कारगार होगा. एक मिनट से भी कम समय छात्रों को जवाब दे देना होगा.

Cbse new delhi

अगर नहीं चली कक्षाएं तो प्रमोट करने में होगी आसानी

कोरोना संकट की वजह से मार्च से ही स्कूल बंद चल रहे हैं. आगे भी कक्षाओं का संचालन कब से शुरू होगा, इसकी तस्वीर अभी साफ नहीं हैं. ऐसे में अगर पूरे साल कक्षाएं नहीं चलती है तो बच्चों को प्रमोट करने के लिए टर्म एग्जाम और असेसमेंट की भूमिका बेहद अहम होगी.

कोरोना संकट के दौर में बोर्ड की ओर से टर्म एग्जाम और असेसमेंट में ओपन बुक सिस्टम लागू करने पर विचार चल रहा है. सत्र को बचाने के लिए ये एक बेहतर विकल्प है. जिसके आधार पर बच्चों को मूल्यांकन कर, उन्हें अगली कक्षाओं में प्रवेश दिलाया जा सकेगा.
-अजय शाही, डायरेक्टर आरपीएम ग्रुप ऑफ स्कूल्स

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

अपना सुझाव यहाँ लिखे