किसान रेल के चलने से मिल रहा किसानों और व्यपारियो को लाभ - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

शुक्रवार, 28 अगस्त 2020

किसान रेल के चलने से मिल रहा किसानों और व्यपारियो को लाभ

 भारतीये रेलवे द्वारा बीते 7 अगस्त को शुरू किए गए  किसान ट्रेन जो महाराष्ट्र के देवलाली रेलवे स्टेशन से बिहार के दानापुर तक चल रही है। इसी वर्ष पेश हुए बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा जल्दी खराब होने वाले सब्जियों और फलों को ढोने के लिए किसान ट्रेन चलाने की घोषणा की गई थी। सार्वजनिक निजी भागीदारी योजना(Public private partnership model) के अंतर्गत कोल्ड स्टोरेज किसान की जो उपज है उसे व्यवस्था करेगी। 


Kisaan rail


महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर के बीच की दूरी लगभग 1519 किलोमीटर है। इसे दानापुर पहुँचने में लगभग      30 - 32 घन्टे लग रहे हैं। 


किसान ट्रेन के चलने से मिल रहा किसानों और व्यपारियों को फायदा

किसान ट्रेन के चलने से 25 से 50 प्रतिशत सामान के ट्रांसपोर्ट के खर्च में कमी आ रही है। सब्जी व्यपारियों के अनुसार जहाँ ट्रांसपोर्ट से माल मंगाने में लाखों लगते थे अब आधे पैसे में सब्जियाँ आ रही हैं। और समय भी कम लग रहा है। अब फल और सब्जियों के भाव में लगभग 20-25 प्रतिशत की कमी होने की सम्भावना जताई जा रही है। वर्तमान में यह ट्रेन सप्ताह में दो दिन चल रही है। ट्रेन में कोल्ड स्टोरेज की व्यवस्था की जाएगी जिससे जल्दी खराब होने वाले फल और सब्जियां जैसे सन्तरा, अंगूर,मौसमी, अनार ,शरीफा, शिमला मिर्च, टमाटर,मिर्च, सहजन, पत्तागोभी जैसे फल और सब्जियों को मंगाने में आसानी होगी। बिहार के लोगों को और अब ताजे फल और सब्जियां खाने को मिलेंगे।

 ✍🏻 सूर्याकांत शर्मा

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

अपना सुझाव यहाँ लिखे