रक्षा मंत्रालय द्वारा 101 रक्षा उपकरणों के बाहर से आयात पर लगाया गया रोक - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

मंगलवार, 11 अगस्त 2020

रक्षा मंत्रालय द्वारा 101 रक्षा उपकरणों के बाहर से आयात पर लगाया गया रोक

 रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 101 सैन्य उपकरणों की सूची बनाई गई है। जिसके आयात पर रोक लगेगी। रक्षा मंत्री ने कहा की यह रक्षा क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। 


Defence minister Rajnath Singh


 रक्षा मंत्रालय ने बताया कि 69 उपकरणों की आयात पर दिसम्बर 2020 से रोक लगा दिया जायेगा। 11 उपकरण को दिसम्बर 2021 के बाद, 4 उपकरण को दिसम्बर 2022 के बाद , 8 उपकरण को दिसम्बर 2023 के बाद, 8 उपकरण को दिसम्बर 2024 और 1 उपकरण को दिसम्बर 2025 के बाद से आयात पर लोक लग जायेगी। अगले छह से सात सालों में उपकरणों के लिये करीब 4 लाख करोड़ रुपये का ठेका दिया जाएगा। थल सेना के उपकरणों के लिए 1.3 लाख करोड़, नौसेना के लिए 1.4 लाख करोड़ और वायुसेना के लिए 1.3 लाख करोड़ की खरीद की जायेगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा की इससे फैसले से भारतीये उधोग में रोजगार के अवसर पैदा हो सकेंगे। भारत ने 2007 से अभी तक 1.24 लाख करोड़ के हथियार अमेरिका से आयात किया है।


दुनिया के टॉप 5 हथियार निर्यात करने वाले देश।

अमेरिका, रूस, फ्रांस, जर्मनी और इजरायल हैं। इसमें 33 प्रतिशत सुरक्षा हथियारों के कारोबार अमेरिका से होता है। दुनियाभर में 98 देशों में अमेरिका हथियार बेचता है। 18 प्रतिशत के साथ सऊदी अरब सबसे बड़ा हथियार का खरीदार है। दूसरे स्थान पर 12 प्रतिशत के साथ भारत है।पिछले वित्त वर्ष में 10,700 करोड़ रुपये का हुआ रक्षा उत्पादों का निर्यात। 2018 -19 में रक्षा उधोगों का कुल उत्पादन 80000 करोड़ रुपये था। भारत 50 प्रतिशत अपनी जरूरत के रक्षा हथियारों का आयात करता है। 2025 तक 130 अरब डॉलर खर्च करेगा भारत अपनी सेना के आधुनिकीकरण पर। 732 अरब डॉलर रक्षा बजट के साथ अमेरिका पहले स्थान पर है और चीन दूसरे स्थान पर है। तीसरे नम्बर पर भारत 70 अरब डॉलर के साथ भारत है। प्रतिबंधित उपकरणों में कुछ और भी उपकरण शामिल किये जा सकते हैं।


  रक्षा क्षेत्र में टॉप 5 सरकारी कंपनियां

1. हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड(HAL)

2. भारत इलेक्ट्रॉनिक लिमिटेड(BEAL)

3. भारत डायनामिक्स लिमिटेड

4. बीईएमएल लिमिटेड

5. मिश्र धातु निगम लिमिटेड(मिधानि)


रक्षा क्षेत्र में टॉप 5 निजी कंपनियां

 1.  टाटा एडवांस्ड सिस्टम  लिमिटेड

 2. रिलायंस नेवल एंड इंजीनियरिंग लिमिटेड

 3. महिंद्रा एंड महिंद्रा एयरोस्पेस

 4.एलएंडटी इंडिया - डिफेंस और एयरोस्पेस

 5. हिंदुजा समूह - अशोक लीलैंड डिफेंस

  📝 सूर्याकांत शर्मा




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

अपना सुझाव यहाँ लिखे