क्रिकेटर और मंत्री चेतन चौहान अब इस दुनिया में नहीं रहे - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

रविवार, 16 अगस्त 2020

क्रिकेटर और मंत्री चेतन चौहान अब इस दुनिया में नहीं रहे

 भारतीये क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और वर्तमान उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री चेतन चौहान का कोविड-19 बीमारी की वजह  से रविवार को  निधन हो गया। कोविड-19 पॉजिटिव आने के बाद उन्हें 12 जुलाई को लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें किडनी सम्बंधित बीमारियों की वजह से उनकी हालत और बिगड़ रही थी। 


Cricketer Chetan chauhan


जिससे उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया। वह वेंटिलेटर पे थे। उनकी उम्र 73 वर्ष थी। चेतन चौहान का जन्म उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले जो अब बुलंदशहर में 21 जुलाई 1947 को हुआ था। उन्होंने अपना ग्रेजुएशन पुणे के वाडिया से किया।

क्रिकेट सफर

चेतन चौहान ने टेस्ट कैरियर की शुरुआत 25 सितम्बर 1969 मुम्बई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में न्यूजीलैंड के खिलाफ किया था। उन्हें पहला रन बनाने के लिए 25 मिनट का वक्त लगा था।  लेकिन उन्होंने ने अपना खाता एक शानदार चौके के साथ खोला फिर ब्रूस टेलर की अगली गेंद पे छक्का मारकर सभी को हैरान कर दिया था। वह 12 साल तक अंतराष्ट्रीय मैच खेले। दुर्भाग्यपूर्ण टेस्ट क्रिकेट में  उनके नाम एक भी शतक नहीं है। वह कुल 40 टेस्ट मैच खेले जिसमें 31.57 की औसत से 2084 रन बनाए उन्होंने कुल 16 अर्धशतक लगाए। चेतन चौहान दुनिया के पहले ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने बिना शतक के ही 2000 रन बनाए। चेतन चौहान ने 7 अंतराष्ट्रीय वनडे में 153 रन बनाए थे। उनका सर्वाधिक स्कोर 97 रन रहा। फर्स्टक्लास क्रिकेट में चौहान के नाम 179 मैचों में 40.22 के औसत से 11143 है। जिसमें 21 शतक और 59 अर्धशतक शामिल है। उनका सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर 207 रन है। वह दिल्ली एवं डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन(DDCA) के अध्यक्ष  और चीफ सलेक्टर भी रहे। टेस्ट में चौहान और सुनील गावस्कर की जोड़ी काफी सफल रही थी।

राजनीति सफर

चेतन चौहान ने 1981 में क्रिकेट  से रिटायर होने के बाद 1991 और 1998 के चुनाव में वह बीजेपी से सांसद बने। वर्तमान में वह योगी सरकार में  होम गार्ड मंत्री थे।

 ✍🏻 सूर्याकांत शर्मा


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

अपना सुझाव यहाँ लिखे