बड़ी संख्या में पौधे लगाने से ज्यादा जरूरी लगाए गए पौधे की संख्या को वृक्ष बनने तक बरकरार रखना या उसकी संख्या में कम गिरावट आने देना - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

सोमवार, 10 अगस्त 2020

बड़ी संख्या में पौधे लगाने से ज्यादा जरूरी लगाए गए पौधे की संख्या को वृक्ष बनने तक बरकरार रखना या उसकी संख्या में कम गिरावट आने देना

 बिहार में पृथ्वी दिवस के मौके पर बीते रविवार तक 9 करोड़ पौधे लगाए गए। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा आर ब्लॉक पथ पर पौधा रोपण किया गया। उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी पौधे लगाए। जीविका दीदीयों के द्वारा 67 लाख पौधे लगाए गए। कृषि विभाग के द्वारा लगभग 13 लाख 63 हजार पौधे लगाए गए। लगाए  गए पौधे में सवा करोड़ फलदार पौधे है। जिसमें सबसे ज्यादा आम के पौधे लगाए गए हैं। इसके अलावा कटहल,जामुन, नीम, नींबू आदि लगाए गए हैं। करीब 10 हजार से अधिक जगह पे लगाए गए हैं पौधे। 


Plant plantation


कई राज्यों में रेकॉर्ड पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया था। उत्तर प्रदेश में 1 दिन में 25 करोड़ पौधे लगाने का उद्देश्य रखा गया था। तेलंगाना में 30 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया था। महाराष्ट्र में 33 करोड़ पोधे लगाने का लक्ष्य था। लेकिन जानकार व्यक्तियों का मानना है की एक दिन में इसे कर पाना सम्भव नहीं है। क्योंकि पौधों को अच्छी बारिश कि आवश्यकता होती है। जो कुछ सालों से समय पे नहीं हो रहा है। और ये इंसानों के बस में नहीं है। लेकिन बड़ी संख्या में पौधे लगाने से ज्यादा महत्वपूर्ण ये है। की उसकी रख रखाव कैसे हो रहा है। पिछले साल भी बड़े पैमाने पे पौधों को लगाया गया था। लेकिन  वृक्ष बनने तक काफी पौधे रख-रखाव के अभाव में सूख गये थे।

 📝सूर्यकांत शर्मा

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

अपना सुझाव यहाँ लिखे