वेबसीरीज क्रिमिनल जस्टिस 3 की शूटिंग शुरू करेंगे पंकज त्रिपाठी, फिर से एक नया मामला सुलझाते नजर आएंगे - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

शुक्रवार, 28 मई 2021

वेबसीरीज क्रिमिनल जस्टिस 3 की शूटिंग शुरू करेंगे पंकज त्रिपाठी, फिर से एक नया मामला सुलझाते नजर आएंगे

 हॉट स्टार की क्राइम थ्रिलर बेस्ड वेबसेरीज ‘क्रिमिनल जस्टिस’ का तीसरा सीजन भी दर्शकों को जल्द देखने को मिलने वाला है। आपको बता दें कि इसके पिछले दो सीजन में पंकज त्रिपाठी ने माधव मिश्रा का किरदार निभाया था जिसमें वह क्राइम के केस को एक वकील के रूप में सुलझाते हुए दिखे थे। इस किरदार में पंकज त्रिपाठी को दर्शकों से भरपूर प्यार मिला था। 



एक रिपोर्ट के मुताबिक ‘क्रिमिनल जस्टिस 3’ की शूटिंग जल्द शुरू होने वाली है। और हमारे माधव मिश्रा यानी पंकज त्रिपाठी जल्द इसकी शूटिंग शुरू करेंगे। और यह वेबसेरीज 2022 कि शुरुआत में दर्शकों के सामने पेश हो सकती है। अब देखना होगा कि पंकज त्रिपाठी अब किस तरह के केस को सुलझाते हुए दिखेंगे।



पिछले दो सीजन को IMDB से मिले थे अच्छे रेटिंग्स

आपको बता दें कि इसका पहला सीजन 2019 में आया था। जिसमें आदित्य शर्मा (विक्रांत मेसी) पर सनाया राठ(मधुरिमा रॉय) का रहस्मयी तरीके से कत्ल करने का आरोप लगा था। जिसमें आदित्य शर्मा (विक्रांत मेसी) को  निर्दोष होते हुए भी जेल के सलाखों के पीछे अपनी जिंदगी के कुछ साल गुजारने पड़े थे। लेकिन बाद में वकील माधव मिश्रा(पंकज त्रिपाठी) और उनकी सहयोगी वकील निखत हुसैन (अनुप्रिया गोयनका)  की मुस्तैदी से जांच करने के बाद उसे निर्दोष  साबित किया गया। इसे तिग्मांशू धुलिया ने निर्देशित और श्रीधर राघवन ने लिखा था। यह हिट रहा था और इसे imdb से 8.1 रेटिंग्स मिले थे।



सीजन 2 ने 2020 में दस्तक दी थी और दर्शकों ने इसे भी खूब पसंद किया था और यह imdb से 7.5 रेटिंग्स हासिल करने में कामयाब रहा था। इसमें भी पंकज त्रिपाठी माधव मिश्रा के रोल में नजर आए थे और उन्होंने अनुराधा चंद्रा (कृति कुलहारी) को सजा कम करवाने में मदद की थी। अनुराध चंद्रा (कृति कुल्हारी) ने अपने पति विक्रम चंद्रा (जिसु सेनगुप्ता) को चाकू से मारकर एक सनसनीखेज़ वारदात को अंजाम दिया था।



 जब मामले ने कोर्ट में दस्तक दी तो उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। फिर हमारे वकील माधव मिश्रा(पंकज त्रिपाठी) और निखत हुसैन(अनुप्रिया गोयनका) को शक होता है। और वे जब मामले को जरा गहराई से जांचते हैं तो पता चलता है कि ये तो सेक्सुअल असाल्ट का मामला है जिसका शिकार अनुराधा चंद्रा थी, वह कोर्ट को बताती हैं, कि उसका पति विक्रम चंद्रा उसके इच्छा के बगैर सेक्स की डिमांड करता था। जिसके बाद कोर्ट को सजा तो देनी ही होती है क्योंकि उन्होंने अपने एडवोकेट पति का कत्ल किया था लेकिन उनकी गवाही के बाद उन्हें सजा में रियायत मिलती है। इसे निर्देशित रोहन सिप्पी ने किया था और स्क्रिप्ट अपूर्व असरानी ने लिखा था।

✍️सूर्याकांत शर्मा


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अपना सुझाव यहाँ लिखे