इस 4 साल की मासूम बच्ची ने बता दी अपनी पुनर्जन्म की कहानी:पड़ताल करने मे दंग रह गए परिजन - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

सोमवार, 24 जनवरी 2022

इस 4 साल की मासूम बच्ची ने बता दी अपनी पुनर्जन्म की कहानी:पड़ताल करने मे दंग रह गए परिजन

 कहानी है नाथद्वारा से सटे गांव परावल से। राजस्थान के राजसमंद में एक 4 साल की बच्ची ने अपने पुनर्जन्म को लेकर जो दावे किए, वो चौंकाने वाले हैं। रतनसिंह चूंडावत की 5 बेटियां हैं। वह एक होटल में नौकरी करते हैं। पिछले एक साल से उनकी सबसे छोटी बेटी किंजल  बार-बार अपने पिछले जन्म के भाई से मिलने की बात कह रही थी। उन्होंने पहले तो इस पर ध्यान नहीं दिया, 


पिछली जिंदगी में उसकी मौत कब और कैसे हुई, मासूम यह सब बता रही है। परिजनों ने जब पड़ताल की तो 30 किलोमीटर दूर उसके बताए एक गांव में 32 वर्षीय महिला की मौत और पारिवारिक स्थितियां ऐसी ही सामने आई है।


                  किंजल जो पिछले जन्म मे उषा थी


मां  ने बताया कि बार-बार पूछने पर किंजल ने बताया कि उसके मां-बाप और भाई समेत पूरा परिवार पिपलांत्री में ही रहता है। वह 9 साल पहले आग से जल गई थी। इस हादसे में उसकी मौत हो गई और बाद में उसे एंबुलेंस यहां छोड़कर चली गई। क्युकी उसे मरने के बाद का क्या क्या हुआ उसे कुछ भी याद नही,उसे बस इतना याद है की उसे एंबुलेंस यहाँ छोडकर चली गयी,पापा ट्रक चलाते थे। उसके परिवार में दो भाई और दो बहने हैं। खेत और घर के बाहर फूल के साथ साथ पौधे भी बताया। बच्ची के बीमार होने की आशंका मानते हुए परिजन उसे कई मंदिरो और डॉक्टरो से भी दिखाया गया , मगर सब जगह बच्ची को नॉर्मल बताया गया।बच्ची के जवाब और दावे से पूरा परिवार सन्न रह गए। 


इसके बाद परिजन बच्ची को लेकर उस गांव पहुंचे तो अपनी मां के सिवा किसी ओर की गोद मे नही जा रही थी उसके बाद वो सबके साथ खूब हसी खेली। ऐसा लगा मानो वो हर किसी को जानती हो और जो भी औरते थी जिनको वो पहचान्ति थी उन सबसे मासूम ने बात किया। 


                          उषा की माँ 


 यहां तक कि जो फूल ऊषा को पसंद थे, उसके बारे में किंजल ने पूछा कि वो फूल अब कहां है। तब हमने बताया कि 7-8 साल पहले हटा दिए गए। उषा की एक बेटी और एक बेटा है वो रोजाना उनसे बात करती है और दुलार भी करती है । गीता ने बताया कि उनकी बेटी ऊषा 2013 में घर में काम करते वक्त गैस चूल्हे से झुलस गई थी। उसके बाद उसकी मौत हो गयी। ऊषा के दो बच्चे भी हैं।


अब उषा के परिवार से भी किंजल का रिश्ता बन गया है ,वो रोजाना अपनी पिछले जन्म की माँ भाई परिवार से वीडियो कॉल पर बात करती है । 


अमृत राज की रिपोर्ट

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अपना सुझाव यहाँ लिखे