मुस्लिम बेटियां दे रहीं BJP को वोट, इसलिए हिजाब विवाद के बीच बोले पीएम मोदी - Bihari karezza - Khabre Bihar Ki

Breaking

गुरुवार, 10 फ़रवरी 2022

मुस्लिम बेटियां दे रहीं BJP को वोट, इसलिए हिजाब विवाद के बीच बोले पीएम मोदी


कर्नाटक से लेकर यूपी तक में हिजाब को लेकर छिड़े घमासान के बीच पीएम मोदी ने मुस्लिम महिलाओं को लेकर कहा है कि वह बीजेपी की समर्थन करने लगी हैं, इसलिए वोट के ठेकेदार उन्हें बरगला रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा की बीजेपी सरकार ने उन्हें तीन तलाक से मुक्त कराया है इसलिए वह बीजेपी को वोट दे रही है।उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार उनके साथ मजबूती के साथ खड़ी है। 




यूपी चुनाव के लिए पहली फिज़िकल रैली के लिए पीएम मोदी सहारनपुर पहुंचे और पीएम मोदी ने कहा "मुस्लिम बहन बेटियां, हमारी साफ नियत को भली भांति जानती हैं। हमने मुस्लिम बहनों को तीन तलाक के जुल्म से मुक्ति दिलाई है। हमने जो तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाया है उसने मुस्लिम बहनों को सुरक्षा का विश्वास दिया है। लेकिन साथियों जब मुस्लिम बहन बेटियों का समर्थन खुलेआम बीजेपी को मिलने लगा, जब भाजपा सरकार की तारीफ करने लगीं, सदियों के बाद इतना बड़ा सम्मान मिलने का गुनगान करने लगी तो वोट के ठेकेदारों की नींद खराब हो गई।''


पीएम मोदी ने कहा, ''वोट के ठेकेदारों को लगा कि हमारी ही बेटी मोदी-मोदी करने लगी। उनके पेट में दर्द होने लगा। मोदी की तारीफ में मुस्लिम बहनों के बयान देखकर इन्हें लगा कि इन बेटियों को रोकना होगा। ये मोदी की तरफ चली जाएगी तो घर में ही उनका राज आ जाएगा तो इसिलए मुस्लिम बहन बेटियों का हक रोकने के लिए नए नए तरीके खोजे जा रहे हैं। वे मुस्लिम बहनों को बरगला रहे हैं। ताकि उनका जीवन हमेशा पीछे रहे। हर मुस्लिम महिला के साथ खड़ी है। कोई उनके साथ जुल्म ना कर सके योगी जी की सरकार इसके लिए बहुत जरूरी है।''


'सत्ता में आना नहीं, इसलिए बारे वादे'

पीएम मोदी ने समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा, ''कुछ घोर परिवारवादी लोग जनता से लगातार खोखले वायदे किए जा रहे हैं। वे इसी सोच पर चल रहे हैं, क्योंकि उन्हें मालूम है कि यूपी की जनता इनके पुराने कारनामों को याद करके फिर से उन्हें घुसने देने वाली नहीं है। उनके नसीब में सत्ता लिखी नहीं है। यूपी की जनता ने उनको नकार दिया है। इसलिए बड़बोले वचन देना, हम ये करेंगे, वो करेंगे, उनका क्या जाता है, आना तो है नहीं करना तो है नहीं। बोलते जाओ। आप मानकर चलिए जब कोई बड़े बड़े वादे करता है ना वह खोखले ही होंगे। इसलिए इन लोगों के बहकावे में ना आइएगा। इन लोगों को जब आपने मौका दिया तो इन्होंने क्या किया।'' 


घर के आंकड़ों से निशाना

पीएम मोदी ने कहा, ''केंद्र सरकार जो घर बनाने की योजना चालाती है। उसमें भी हमारे गरीबों ने भी इन परिवारवादी लोगों की निर्दयता को झेला है। जब यहां पर घोर परिवारवादी लोग सत्ता में थे, तो इन्होंने सहारनपुर के शहरी इलाकों में 500 गरीबों के लिए घर बनाएंगे यह उन्होंने स्वीकृति दी थी। सिर्फ 500।  इतनी बड़ी बातें करने वाले लोगों ने 500 घर भी नहीं बनाए, सिर्फ 200 घर बनाए। 500 की बात की और बनाए 200। अब 2017 में आपने लोगों के लिए जीने वाली यूपी का भला करने वाली जब योगी जी की सरकार बनाई तो बदलाव आया उसके आंकड़े सुनिए। पहले की सरकार ने 500 का लक्ष्य रखा, 200 कर पाए। योगी जी ने 31 हजार। कहां 500 और कहां 31 हजार, 31 हजार घरों को स्वीकृति। इनमें से 18 हजार का तो काम पूरा कर दिया। आप बताइए 500 और 200 में भी जो लटके रहते हैं वे चाहिए या 31 हजार वाली। यही होती है डबल इंजन सरकार की ताकत। सिर्फ अपने परिवार की सेवा में लगे रहने वाले लोग। अपने परिवार का भला सोचने वाले लोग, गरीब, दलित, वंचित, किसान के लिए ये कभी भी सोच नहीं सकते। काम कभी कर नहीं सकते।''

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अपना सुझाव यहाँ लिखे